Express and Explore Yourself

तस्वीर पर क्लिक करें

Showing posts with label इतिहास. Show all posts
Showing posts with label इतिहास. Show all posts

यह मत पूछिए कि अदालत कहां है? यह पूछिए, जिस लोकतंत्र में अदालत होती है, वो लोकतंत्र कहां है?

- कृष्णकांत जब भी किसी गैर-न्यायिक हत्या पर सवाल उठते हैं तो लोग पूछते हैं कि भारत में न्यायपालिका है ही कहां? एक थे जस्टिस वीआर कृष्...

वीर अब्दुल हमीद ने अकेले दम पर पाकिस्तानी सैनिकों को पीठ दिखाने पर मजबूर कर दिया था

- कृष्णा रूमी पाकिस्तान के पास पैटन टैंक्स थे, जिनका भारत के पास कोई तोड़ नहीं था। भारत के पास शेरमन टैंक्स थे जो पैटन टैंक्स क...

महात्मा गांधी मानते थे कि इस देश में आप नास्तिक होकर सांप्रदायिकता के ख़िलाफ़ नही लड़ सकते

- आशुतोष तिवारी गांधी कुशल थे। वह भारत के अंतस से वाक़िफ़ थे। उनका राजनीतिक व्यवहार इस बात की व्याख्या  है। मसलन वह जब राजनीति ...

जैसे भारत में कुछ लोग 'हिंदुत्व' बचाने आए हैं, वैसे ही पाकिस्तान में जिया-उल-हक़ इस्लाम बचाने आए थे !

- मनीष सिंह नेताओं को आम खाने का शौक होता है। काटकर, चूसकर, छीलकर.. आम और अवाम को खाने वाले नेताओं ने हमारे बीच काफी गहरी लकीरे...

'धर्मांधता 21वीं सदी की समस्या है 17वीं सदी की नहीं, औरंगज़ेब को सबसे ज्यादा बदनाम अंग्रेजों ने किया'

-राजीव मित्तल औरंगज़ेब अपने समय का बिल्कुल अलग किस्म का शासक था..विडंबना देखिए कि जब सत्ता को लेकर उसका अपने पिता मुग़ल बादशाह शा...