Express and Explore Yourself

तस्वीर पर क्लिक करें

Showing posts with label अध्यात्म. Show all posts
Showing posts with label अध्यात्म. Show all posts

राम किंकर जैसी सादगी और फ़क़ीरी चोला मैंने किसी भी दूसरे कथावाचक में आज तक नहीं देखा

-शंभूनाथ शुक्ल आज जब कथावाचकों को लेकर राजनीति हो रही है, तो मुझे राम किंकर जी याद आते हैं। रामचरित मानस और सनातन हिंदू धर्म व संस्क...